Jagjit Singh

खेलो इंडिया में इंदौर की तीन प्रतिभाएं:खो-खो में मप्र प्रतिनिधत्व करेंगी जाह्नवी, तीन साल में 3 नेशनल खेले; 10 स्वर्ण पदक हासिल

 30 जनवरी से शुरू होने वाले ‘खेलो इंडिया’ में इंदौर की तीन प्रतिभाएं खो-खो में मप्र का प्रतिनिधित्व करेंगी। इन तीनों के नाम जाह्नवी यादव, अक्षरा यादव व कनिष्क जरिया है। खास बात यह कि जाह्नवी का 2019 में खेलो इंडिया गेम्स के लिए भी उनका चयन हुआ था, लेकिन कोविड के चलते तब खेलों को सीमित कर दिया था।



जाह्नवी ने बताया कि उसने तीन साल में सात नेशनल खेले हैं जिसमें हरियाणा, ओडिशा, छत्तीसगढ़, पश्चिम बंगाल, सूरत, उत्तराखंड, महाराष्ट्र में सफलता हासिल की है। पिछले महीने कोलकाता में नेशनल में मध्यप्रदेश का प्रतिनिधित्व किया था, जिसमें मप्र टीम उपविजेता रही थी। स्कूल नेशनल में वह 10 से अधिक स्वर्ण पदक जीत चुकी हैं। वे कहती हैं खो खो में स्टेमिना के साथ स्पीड का अहम रोल होता है। फिटनेस बनाए रखने के लिए वे हर दिन 4 घंटे एक्सरसाइज, रनिंग और स्विमिंग करती हैं।

विधायक हार्डिया का प्रोत्साहन

जाह्नवी को शुरू से ही परिवार का पूरा सहयोग रहा है। वे उसे लगातार प्रोत्साहित करते हैं। उसका निवास वार्ड 52 में है। उसे क्षेत्रीय विधायक महेंद्र हार्डिया का समय-समय पर पूरा प्रोत्साहन मिला है। चाचा पप्पू यादव ने बताया कि इन दिनों वह जबलपुर में है। उसका पहला मैच 30 जनवरी को जबलपुर में होगा।

‘खेलो इंडिया’ यूथ गेम्स के मेडलिस्ट खिलाड़ी को केंद्र सरकार की ओर से 5 साल के लिए 8 लाख रुपए दिए जाते हैं। खेलो इंडिया गेम्स का आयोजन पहली बार मध्यप्रदेश में हो रहा है। इस बार केंद्र के साथ राज्य सरकार भी मेडलिस्ट खिलाड़ी को 5 लाख रुपए देगी। उधर, इंदौर की अक्षरा यादव व कनिष्क जरिया भी खो-खो में मप्र का प्रतिनिधित्व कर रही है। इन दोनों ने भी स्कूल नेशनल में कई पदक हासिल किए हैं। ये दोनों भी अभी जबलपुर में हैं तथा प्रेक्टिस कर रही है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ