IRPRA

खड़े रहो, अड़े रहो




दुनिया में सबसे आसान काम है "विश्वास खोना"

कठिन काम है "विश्वास पाना"

और उससे भी कठिन काम है "विश्वास को बनाए रखना"

विश्वास बनाए रखने के लिए खड़े रहो, अड़े रहो,अड़े रहो, अड़े रहो...


दुनिया में सबसे आसान काम है "सपने देखना"

कठिन काम है "सपने पूरे करना"

और उससे भी कठिन काम है "सपनों को हकीकत में बदलना"

सपनों को हकीकत में बदलने के लिए खड़े रहो, अड़े रहो,अड़े रहो, अड़े रहो...


दुनिया में सबसे आसान काम है "बात सुनना"

कठिन काम है "बात कहना"

और उससे भी कठिन काम है "अपनी बात मनवाना"

अपनी बात मनवाने के लिए खड़े रहो, अड़े रहो,अड़े रहो, अड़े रहो...


दुनिया में सबसे आसान काम है "हार जाना"

कठिन काम है "जीत जाना"

और उससे भी कठिन काम है "बार बार जीतते रहना"

बार बार जितने के लिए खड़े रहो, अड़े रहो,अड़े रहो, अड़े रहो...


गर जुनून है सर पर तेरे और अंतर में हो विश्वास,

फिर ठोकर और ठुकराने का होगा कहां तुम्हें एहसास.

मकसद में सच्चाई है तो सीना ठोक के यही कहो,

झुकना होगा दुनिया तुमको विश्वास पर अपने खड़े रहो, अड़े रहो, अड़े रहो, अड़े रहो...


दुनिया बदली है जिसने भी पहले उसको इंकार मिला,

अपमानों का हार मिला और तानों का उपहार मिला.

हर श्वास में विश्वास भरो लहरों के विपरीत बहो,

हाथों में विजय मशाल लिए. विश्वास पे अपने खड़े रहो, अड़े रहो, अड़े रहो, अड़े रहो...  


अपने सपने तुम स्वयं चुनो और बुन लो विश्वास की डोरी से,

तुम विजय गर्जना के नायक, तुम को क्या करना लोरी से.

तुम स्वयं सिद्ध इस जीवन के, उन्मुक्त गगन में उड़ो चलो,

आरंभ आज से नवयुग का, विश्वास में अपने खड़े रहो, अड़े रहो, अड़े रहो, अड़े रहो...  


एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ