2030

कांग्रेस के नवसंकल्प चिंतन शिविर से पहले सचिन पायलट के पोस्टर और होर्डिंग्स हटाने पर सियासत



उदयपुर: उदयपुर में कांग्रेस के नव संकल्प चिंतन शिविर (congress chintan shivir) से पहले शहर में लगे सचिन पायलट (sachin pilot) के होर्डिंग्स -पोस्टर को हटाने को लेकर सियासत शुरू हो गई है। शिविर से पहले पोस्टर के हटने से पायलट के समर्थकों में खासी मायूसी देखी गई है। हालांकि इसके बाद भी गुरुवार शाम जब पायलट उदयपुर पहुंचे तो गर्मजोशी से उनका स्वागत किया। इससे पहले पायलट समर्थकों ने अपने नेता के स्वागत को लेकर होटल के बाहर, एयरपोर्ट के आसपास और शहर में कई जगहों पर होर्डिंग्स -पोस्टर लगवाए थे। लेकिन बुधवार रात और गुरुवार सुबह उन्हें हटवा दिया गया।

समर्थकों का दावा है कि शहर के अलग-अलग क्षेत्रों से पायलट के होर्डिंग्स-पोस्टर हटवा देने से युवा कार्यकर्ताओ में मायूसी है। कांग्रेस के सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार यह बात जरूर सामने आई है कि संगठन के पदाधिकारियों ने डीसीसी को ऐसे पोस्टर्स हटाने को कहा था, जिनमें समर्थकों के चेहरे दिखते हों। बता दें कि समर्थक अपने नेता के पोस्टर के साथ अपना भी चेहरा लगाते हैं। ऐसे में यह कहा गया कि ऐसे कोई भी पोस्टर न हो जिनमें समर्थकों का चेहरा दिखता है।

डोटसरा बोले - एआईसीसी देख रही है सब कुछ

इस मसले पर कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा अनभिज्ञता जाहिर की है। डोटासरा ने कहा कि शिविर से संबंधित सभी काम एआईसीसी देख रही है। ऐसे में डोटासरा ने इस मामले से अपना पल्ला झाड़ लिया है। डोटासरा ने कहा कि मेरी ओर से किसी भी तरह के कोई निर्देश नहीं दिए गए हैं। इधर, कलेक्टर ताराचंद मीणा ने कहा कि प्रशासन का पोस्टर लगाने-हटाने में कोई रोल नहीं है। जो भी है पार्टी स्तर पर है।


एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ