Breaking News

क्‍या आप जानते हैं? 'तेरा यार हूं मैं' के अंश सिन्‍हा असल जिंदगी में स्विमिंग में गोल्‍ड मेडलिस्‍ट हैं

  'तेरा यार हूं मैं' के अंश सिन्‍हा असल जिंदगी में स्विमिंग में गोल्‍ड मेडलिस्‍ट हैं 


सोनी सब के हल्‍के-फुल्‍के शो 'तेरा यार हूं मैं' ने अपनी दिलचस्‍प और सभी को जोड़ने वाली कहानी के साथ दर्शकों को बांधकर रखा है। दर्शकों को इस शो के किरदार और उनकी ऑन-स्‍क्रीन केमिस्‍ट्री बहुत पसंद आ रही है। अंश सिन्‍हा, इस शो से जुड़े एक ऐसे ही कलाकार हैं, जिन्‍हें एक नौजवान ऋषभ बंसल की अपनी भूमिका के लिये काफी लोकप्रियता मिल रही है। हम सभी जानते हैं कि अंश सिन्‍हा एक प्रतिभाशाली अभिनेता हैं, लेकिन अदाकारी के अलावा भी वह एक और चीज में माहिर हैं। हालांकि, उन्‍हें हर तरह की स्‍पोर्टिंग ऐक्टिविटीज पसंद है, लेकिन तैराकी या स्विमिंग उनका सबसे पसंदीदा खेल है और वह इसमें गोल्‍ड मेडल जीत चुके हैं। 

अंश सिन्‍हा एक ऐक्‍टर के रूप में कामयाबी की सीढि़यां चढ़ रहे हैं, लेकिन हम इस बात से भी इनकार नहीं कर सकते कि वह गोल्‍ड-मेडलिस्‍ट स्विमर हैं। उन्‍होंने बताया कि उन्‍होंने अपनी जिंदगी में खेलों को किस तरह शामिल किया। 


खेलों के प्रति अपने प्‍यार के बारे में बताते हुये अंश सिन्‍हा ने कहा, ''हर भारतीय की तरह, मुझे भी क्रिकेट से बेइंतहां प्‍यार है। बचपन से ही मेरे पसंदीदा खिलाड़ी सचिन तेन्‍दुलकर रहे हैं। क्रिकेट एक ऐसा खेल है, जिसे मैं न सिर्फ देखना पसंद करता हूं, बल्कि में हमेशा ही शूटिंग के बीच में से समय निकालने की कोशिश करता रहता हूं, ताकि मैं इसकी अच्‍छे से प्रैक्टिस भी कर पाऊं। मैं एक ऐसा शख्‍स हूं, जो खेल के मैदान की हर खबर से अपडेट रहना चाहता है और खासतौर से क्रिकेट की खबरों से। इन दिनों सोशल मीडिया किसी भी तरह की जानकारी का एक बड़ा सोर्स बन गया है और मैं शुक्रगुजार हूं कि मुझे शू‍टिंग के दौरान भी खेल से जुड़ी हर खबर मिलती रहती है। मुझे जब भी शूटिंग के बीच में ब्रेक मिलता है, मैं उन मैचों को देखता हूं, जो पहले देख नहीं पाया था, ताकि किसी भी स्‍पोर्ट की कोई भी हाईलाइट मुझसे छूट न जाये।'' 

उन्‍होंने आगे कहा, ''इन दिनों मुझे मिक्‍स्‍ड मार्शल आर्ट्स और कुश्‍ती बेहद पसंद आ रही है। मुझे ये खेल इस कदर भा गये हैं, कि मैं इन्‍हें सीखना भी चाहता हूं। अपने स्‍कूल और कॉलेज के दिनों में, मुझे खेल बहुत पसंद थे, लेकिन इसके बावजूद मुझे कभी भी अपने स्‍कूल की क्रिकेट टीम के लिये भी खेलने का मौका नहीं मिला। लेकिन मैंने हार नहीं मानी और खेलों के प्रति मेरा प्‍यार बरकरार रहा। मैंने तैराकी में अपना हाथ आजमाया और उसके लिये एक गोल्‍ड मेडल भी जीता। मैं चाहता हूं और मुझे उम्‍मीद है कि भविष्‍य में मुझे स्‍पोर्ट्स में भी अपना कॅरियर बनाने का मौका मिलेगा। 'तेरा यार हूं मैं' ने एक ऐक्‍टर के तौर पर मेरे सपने को पूरा किया है और मैं इसके लिये पूरी टीम का आभारी हूं। खेल के मैदान में कुछ हासिल करने पर मुझे ऐसा लगेगा कि मैं अपनी उपलब्धियों के ताज में एक और पंख जोड़ लिया है।'' 

देखिये 'तेरा यार हूं मैं', सोमवार से शुक्रवार, रात 9.30 बजे सिर्फ सोनी सब पर

आपका Troopel टेलीग्राम पर भी उपलब्ध है। यहां क्लिक करके आप सब्सक्राइब कर सकते हैं।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ