Categories, unlike tags, can have a hierarchy. You might have a Jazz category, and under that have children categories for Bebop and Big Band. Totally optiona Categories, unlike tags, can have a hierarchy. You might have a Jazz category, and under that have children categories for Bebop and Big Band. Totally optiona Categories, unlike tags, can have a hierarchy. You might have a Jazz category, and under that have children categories for Bebop and Big Band. Totally optiona

सोनी सब ने एक भव्यी पारिवारिक मनोरंजन शो ‘भाखरवड़ी’ को लॉन्च किया! परंपराओं की जुगलबंदी होगी, नये तौर-तरीके के साथ

Entertainment Television

खुशियां देने के अपने वादे को आगे बढ़ाते हुए सोनी सब जेडी मजेठिया और आतिश कपाडिया के साथ एक बार फिर अपनी एक अनूठी पेशकश के साथ हाजिर है। पुणे की पृष्‍ठभूमि पर बना ‘भाखरवड़ी’ शो मराठी और गुजराती परिवार के वैचारिक मतभेदों पर हास्‍य से भरपूर कदम है। ये दोनों परिवार भाखरवड़ी के बिजनेस में एक-दूसरे को टक्‍कर दे रहे हैं। जीवन के सार की तरह इस सीरीज में देवेन भोजानी और परेश गनात्रा जैसे विविधतापूर्ण कलाकार काफी लंबे समय बाद एक साथ टेलीविजन पर वापस लौट रहे हैं। ‘भाखरवड़ी’ 11 फरवरी को लॉन्‍च हो रहा है, जिसका प्रसारण सोमवार से शुक्रवार, रात 8 बजे केवल सोनी सब पर किया जायेगा। यह शो गोखले परिवार के मुखिया बालकृष्‍ण गोखले उर्फ अन्‍ना (देवेन भोजानी अभिनीत) और ठक्‍कर परिवार के मुखिया, महेंद्र ठक्‍कर (परेश गनात्रा अभिनीत) का दर्शकों से परिचय कराने आया है। व्‍यक्तित्‍व और सिद्धांतों में जमीन-आसमान के अंतर के साथ, यह शो उनकी विविधापूर्ण संस्‍कृति और सोच को दर्शाता है। सिद्धांतों का सख्‍ती से पालन करने वाले अन्‍ना को व्‍यापार में लगातार बेहद अपारंपरिक और मॉर्डन गुजराती फारसान दुकान के मालिक महेंद्र से टक्‍कर मिलती रहती है। वह अपनी चालाकी और कुशलता से ऐसा करता है। एक-दूसर से लगातार भिड़ने वाले गोखले और ठक्‍कर को इस दुश्‍मनी के बीच अपने बच्‍चों के बीच पनप रहे प्‍यार की वजह से बिजनेस में एक नया ट्विस्‍ट देखने को मिलता है। अक्षिता मुद्गल अभिनीत गायत्री ठक्‍कर, गोखले परिवार के बिलकुल पड़ोस में आ जाती है तो गोखले परिवार का सबसे छोटा बेटा अक्षय केलकर अभिनीत अभिषेक गोखले उससे तुरंत ही जुड़ जाता है और दोनों को धीरे-धीरे एक-दूसरे प्‍यार हो जाता है। अन्‍ना, अक्षय पर बहुत भरोसा करते हैं और उन्‍हें लगता है कि गोखले भाखरवड़ी बिजनेस को बढ़ाने वाला वही खानदान का सबसे उपयुक्‍त वारिस है। बस वही एक होता है जिसको उन्‍होंने सीक्रेट रेसिपी नहीं बतायी थी। वहीं दूसरी तरफ गायत्री एक आयुर्वेदिक न्‍यूट्रिनिस्‍ट है। वह एक दयालु और नेक दिल लड़की है जोकि गरीबों की सेवा और उनकी मदद करने में भरोसा करती है। वह अपने पिता से प्‍यार करती है लेकिन अन्‍ना की सच्‍चाई और अनुशासन की वजह से उनका भी सम्‍मान करती है। एक छोटे एकल परिवार से होने के कारण, उसे संयुक्‍त परिवार में रहने की बात अच्‍छी लगती है। गोखले परिवार की तरह ही वह अपनी संस्‍कृति और परंपराओं से जुड़ी हुई है। विशुद्ध रिश्‍तों की गर्माहट और उसके सार, एक होने की भावना और फैमिली ह्यूमर को प्रस्‍तुत कर रहा, ‘भाखरवड़ी’ कुछ बेहद ही प्रतिभाशाली गुजराती और मराठी थियेटर तथा फिल्‍म इंडस्‍ट्री के कलाकारों को एक साथ लेकर आ रहा है। उनमें स्मिता सरवड़े, कुणाल पंडित और तेजल अदिवारकर जैसे कलाकार शामिल हैं।

टिप्‍पणी:

नीरज व्‍यास, बिजनेस हेड, सोनी सब पल ‘’अपने दर्शकों के घरों में खुशियां बिखरने के लिये हमने नये तरह की प्रोग्रामिंग की रणनीति के साथ 2019 की धमाकेदार शुरुआत की है। नये और अनूठे शोज लाने की अपनी रफ्तार को बरकरार रखते हुए, हम जीवन के सार वाली नई प्रस्‍तुति ‘भाखरवड़ी’ को लॉन्‍च करते हुए बेहद खुश हैं। यह शो खाने के व्‍यापार में दो परिवारों के नज़रिये से हमारे देश की सांस्‍कृति विविधता को प्रस्‍तुत कर रहा है। हमारा लक्ष्‍य इस हल्‍के-फुलेक और भरपूर ड्रामे वाले शो के माध्‍यम से अपने प्राइम टाइम को सुदृढ़ बनाना है।  हैट्सऑफ प्रोडक्‍शंस के प्रोड्यूसर, जेडी मजेठिया ‘’भारतीय टेलीविजन पर हमें काफी ज्‍यादा सफलता अर्जित की है, पारिवारिक दर्शक हमेशा हमसे कुछ अलग की उम्‍मीद करते हैं और हम उनकी उम्‍मीदों पर खरा उतरने की कोशिश करते हैं। ‘भाखरवड़ी’ पूरी तरह से पारिवारिक मनोरंजन है,जिसमें इमोशन है, ह्यूमर, ड्रामा, लव स्‍टोरी और कुल मिलाकर मनोरंजन की काफी सारी सामग्री है। यूं तो वास्‍तविक रूप में भाखरवड़ी साइड डिश के तौर पर खायी जाती है, लेकिन सोनी सब पर इसे मुख्‍य डिश के रूप में परोसा जायेगा और दर्शक मीठे की तरह इसका आनंद लेंगे।‘’    हेट्सऑफ प्रोडक्‍शंस के राइटर-प्रोड्यूसर आतिश कपाडिया  ‘’यह ‘भाखरवड़ी’ जीवन के सार की सीरीज है। यह भाखरवड़ी पकवान की तरह है जिसमें मुंह में पानी लाने वाली कई सारी सामग्री होती है। यह शो पुणे की पृष्‍ठभूमि पर बना है। यह मराठी और गुजराती परिवार के बीच के वैचा‍रिक मतभेद को मजाकिया रूप में दर्शाता है,जिसके आस-पास एक प्‍यार की कहानी बुनी गयी ह।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may use these HTML tags and attributes: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>

*

Lost Password